तैलीय त्वचा की देखभाल – Oily Skin Care Tips In Hindi

Oily Skin Care Tips In Hindi

तैलीय त्वचा की देखभाल-

कहते है खूबसूरती देखने वाले की आँखों में होती है और खूबसूरती का कोई पैमाना नहीं होता | लेकिन स्वस्थ त्वचा गहरी आँखे और लम्बे बाल खूबसूरती का प्रतिमान होती है|  चाहे जो हो खूबसूरत दिखना सब का हक़ है इस लिए अपनी त्वचा की देखभाल करना आप की ज़िम्मेदारी… तैलीय त्वचा को लोगो के अपनी खूबसूरती को बनाये रखना थोड़ा मुश्किल होता है क्युकी उनके चेहरे में जल्दी किसी भी क्रीम या घरेलु उपाए को अपनाने के बाद उसके रिजल्ट में देरी आती है या यह भी कह सक की इनपर इन का जल्दी असर नहीं होता ऐसे आप को ख़ास तरह के उपायों को को अपनाना चाहिए|

आज के इस ब्लॉग में हम उसी के बारे में जानेगे, की गर्मियों में तैलिये त्वचा का किस तरह से ख्याल रखा जाये| इसके लिए हम कुछ असरदार घरेलु उपायों के बारे में आज बात करेंगे तो चलिए फिर जानते है |

तैलीय त्वचा की देखभाल कैसे करे / Oily Skin Care Tips In Hindi –

Oily Skin Care Tips In Hindi
गरमियों में त्वचा की तैलीय ग्रंथियां काफी एक्टिव होती हैं और त्वचा के चिपचिपेपन की परेशानी से बचना अकसर मुश्किल हो जाता है । ऐसे में चेहरे पर हेल्दी ग्लो कायम रहने की उम्मीद करना बेमानी है । पर स्पेशल फेस पैक लगाएं , तो यह नामुमकिन में निकलने से बचें । इससे त्वचा पर मौजूद तैलीय ग्रंथियां एक्विट हो जाती हैं , जिससे ब्लैक हेड्स और पिंपल्स की समस्या हो जाती हैं ।
• ऑयली स्किन के लिए फेस पैक- नीम की 2-3 पत्तियां , 2-3 पोदीने की पत्तियां , 2-3 तुलसी की ताजी पत्तियां और ताजे गुलाब की पंखुड़ियां का पेस्ट तैयार करें । इसमें मुलतानी मिट्टी मिला कर पैक बना कर लगाएं ।
• ज्यादा से ज्यादा पानी भी नहीं पिएं , इससे शरीर में मौजूद टॉक्सिन दूर होंगे , त्वचा के पोर्स सांस लेंगे । त्वचा में नमी बरकरार रहेगी ।
• फेस स्क्रब के लिए जौ का आटा और कर चेहरे और गरदन पर लगाएं । 10 मिनट के बाद हल्के हाथ से मलते धो लें
• मुलतानी मिट्टी और दही , नीबू का रस और कुछ बूंद विच हेजल की मिलाएं और चेहरे व गरदन पर लगाएं । हल्का सूखने पर धो लें ।
• नीम की कोमल पत्तियां , 2-3 | गुलाबी की पंखुड़ियां , 2 तुलसी की ताजी पत्तियां , 2 पोदीना की पत्तियां सभी को मिला कर पेस्ट बनाएं । मुलतानी मिट्टी के साथ मिलाएं । एक छोटा चम्मच दही भी डालें । साफ चेहरे पर लगाएं ।
• खट्टे फलों से तैयार फेस पैक से त्वचा की तैलीय ग्रंथियों की सक्रियता कम होती है । इसे आप नियमित भी लगा सकती हैं । इसके लिए खीरे को कस लें , इसमें कुछ नीबू का रस और कुछ बूंद पोदीने का रस मिलाएं । साफ चेहरे पर लगा कर छोड़ दें । 20-25 मिनट के बाद चेहरा धो लें।
• खीरे का रस , नीबू का रस , तरबूज का रस , सभी बराबर मात्रा में मिला कर साफ चेहरे पर लगाएं । इसे 20 मिनट के तक चेहरे पर लगा कर छोड़ दें । ठंडे पानी से धो लें । मुलतानी मिट्टी , पोदीना रस , विना क्रीमवाली दही सभी को मिला का पेस्ट बनाएं और चेहरे पर लगाएं ।
• मसूर दाल को धो कर खीरे के रस में भिगोएं । इसका पेस्ट बनाएं । चेहरे साफ करें तैयार मसूर का पैक लगाएं और हल्का सूखने पर धो लें ।
• चंदन पाउडर को गुलाबजल में मिला कर नियमित लगाने पर चेहरे की रंगत साफ होती है । मुंहासे कम होते हैं । त्वचा बदरंग नहीं रहती ।
• संतरे के छिलके को सुखा कर पाउडर बनाएं । चार बड़े चम्मच बेसन और 4 बड़े चम्मच दूध मिलाएं । इसे साफ चेहरे पर लगाएं । 20 मिनट के बाद चेहरा धो लें ।
• तैलीय त्वचा में मुंहासों के दाग बहुत जिद्दी होते हैं । इन्हें दूर करने के लिए आलू का रस या पोदीने का रस इस्तेमाल करें । दो हफ्ते में नतीजे दिखायी देंगे ।
• ताजे मौसमी फल खाएं । इससे बॉडी हाइड्रेट और डिटॉक्स भी रहेगी । इससे त्वचा पर मुंहासों की समस्या कम होगी । एंटी ऑक्सीडेंट फल जैसे पपीता , कीवी और मौसमी सब्जियां अपनी रुटीन डाइट में शामिल करें ।
समर डिटॉक्स ड्रिंक–
एक नारियल पानी सुबह खाली जरूर पाएं । इसे नियमित पीने से धीरे – धीरे शरीर में मौजूद विषाक्त तत्व दूर होने लगते हैं । त्वचा पर इसका असर दिखने – नीबू पानी कम नमक और कम चीनी युक्त पिएं । इससे पेट साफ रहेगा । कॉन्सटिपेशन दूर होने की वजह से त्वचा साफ रहेगा।
• एक जग पानी में नीबू और पोदीने की ताजी पत्तियां डाल कर 5 घंटे के लिए छोड़ दें । इसे दिनभर में पिएं ।
उम्मीद करती हु आज की जानकरी पसंद आयी होगी धन्यवाद|| 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *