होठों का कालापन दूर कर उसे गुलाबी करने का तरीका

होठों का कालापन दूर कर उसे मुलायम और गुलाबी करने का तरीका,होठों का कालापन दूर करना,काले लिप्स को गुलाबी कैसे करे,pink lips kaise kare,kale hoto ka ilaj,hoto ki darkness kaise kmkare,hoto ko kala se gulabi kaise kare,lips kale ki tips,lip ka kalapan kaise hataye,होंठ मुलायम और गुलाबी करने का तरीका,होंठ मुलायम करने का तरीका,होठों को गुलाबी करने,khoobsuratworld,khoobsurat world,lips tips khoobsuratworld,lip care in hindi,गुलाबी होंठ,होंठ,होठ लाल करने का घरेलू उपाय

होठो का कालापन आप के चेहरे की खूबसूरती को कम कर देता है। अगर आप के होठ गुलाबी दिखेंगे तो इससे आप का फेस भिओ अच्छा दिखेगा चेहरे को बदसूरत बनाने में दो ऐसी चीजे है जो की जो सबसे ज्यादा परभव डालती है पहला तो आप का आँखों के निचे का कालापन

और दूसरा लिप्स की डार्कनेस यह आप की ज़िम्मेदारी है की आप उसकी सही से केयर करे। ताकि आप का चेहरा प्यारा दिखाई दे आप के चहरे का रंग कैसा भी हो आप खूबसूरत है यह याद रखे हमेशा।

आइये अब हम बात करे की आप किश तरह से अपने होठो का कालापन दूर कर सकती है इन टिप्स को ज़रूर अपनाये आप को फायदा होगा यकीन करे-

होंठों के कालेपन का कारण –

hoto ke kalapan ka kya karan hai

होंठों का रंग इस बात पर निर्भर करता है कि हम इसका कितना ख्याल रखते हैं। इसलिए, अगर रोजमर्रा की कुछ चीजों पर आप ध्यान दें, तो आप होंठों को काला होने से बचा सकते हैं। आइए, जानते हैं होंठों के कालेपन के मुख्य कारण –

  • आए दिन रासायनिक उत्पादों के इस्तेमाल से हम अपने होंठो के प्राकृतिक रंग को खो देते हैं ।
  • धूप में बाहर निकलना भी होंठों के कालेपन का एक मुख्य कारण है, क्योंकि सूरज की पराबैंगनी किरणें त्वचा को काला कर सकती हैं।
  • काले होंठ का कारण धूम्रपान भी है। इससे लिप पिगमेंटेशन के साथ ही कई अन्य घातक बीमारियां भी हो सकती हैं ।
  • जरूरी पोषक तत्वों की कमी की वजह से भी होठों में कालापन आने लग जाता है। इन्हीं पोषक तत्वों में से विटामिन-सी और बी12 भी है, जो स्किन टोन को लाइट करने में मदद करता है ।
  • होंठों की देखभाल न करना भी इनके काले होने का अहम कारण माना जाता है।
  • ज्यादा लिपस्टिक का इस्तेमाल भी आपके होंठों को काला बना सकता है ।
  • वहीं, डॉक्टरों का कहना है कि बार-बार होंठों पर जीभ फेरने से या होंठों की त्वचा को छिलने से भी होंठ काले हो सकते हैं।

होठों का कालापन दूर करने के घरेलू नुस्खे-

ग्लिसरीन

lips ke kalepan ko door karne ke liye glycerin lagaye

इसे ग्लिसरॉल भी कहा जाता है। प्राकृतिक तेल से बनने वाले इस ग्लिसरीन को सदियों से त्वचा संबंधी चीजों में इस्तेमाल किया जाता रहा है

सामग्री :
  • ग्लिसरीन
  • रुई

उपयोग करने का तरीका :

  • रुई के सहारे से ग्लिसरीन को रात को सोने से पहले होंठों पर लगाएं।
  • लगाने के बाद इसे रातभर के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • फिर अगली सुबह इसे धो दें।
  • इसी तरह रोजाना इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

ग्लिसरीन आपकी त्वचा की नमी को बढ़ाता है| इसलिए, इसका इस्तेमाल कई एंटी-एजिंग क्रीम में भी किया जाता है। अगर आप ग्लिसरीन को नियमित रूप से लगाते हैं, तो यह त्वचा के मॉइस्चर को बनाए रखकर बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम कर सकता है। ग्लिसरीन के नियमित रूप से इस्तेमाल करने से त्वचा की रंगत में भी सुधार लाया जा सकता है। यही वजह है कि होंठों में भी इसे लगाने से इनका काला रंग फीका पड़ने लगता है।

ग्लिसरीन त्वचा को कोमल बनाने मदद करता है। एक अध्ययन में पाया गया है कि सोडियम लॉरिल सल्फेट (एसएलएस) की वजह से होने वाली जलन को भी ग्लिसरीन से ठीक किया जा सकता है साथ ही ग्लिसरीन में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण भी पाए जाते हैं |

शहद और नींबू का मिश्रण

honey and lemon for lips pinkness

शहद और नींबू दोनों में विटामिन-सी पाया जाता है। विटामिन-सी को एस्कोरबिक एसिड भी कहा जाता है, जो बतौर ब्लीचिंग एजेंट हमारी स्किन पर काम करता है। शायद यही वजह है कि इनका सभी तरह के ब्यूटी उत्पादों में इस्तेमाल किया जाता है। चाहे स्किन क्रीम हो या फिर लिप बाम, सभी में शहद और नींबू के अर्क मौजूद रहते हैं।

सामग्री :

  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक चम्मच शहद
  • मुलायम कपड़ा
  • पानी की कुछ बूंदें

उपयोग करने का तरीका :

  • नींबू के रस में शहद डालकर अच्छे से मिला लें।
  • मिश्रण बनाने के बाद इसे होठों पर लगाए और एक घंटे लगा रहने दें।
  • फिर एक घंटे बाद मुलायम कपड़े या गीले कपड़े से पोंछ लें।
  • ये मिश्रण दिन में जितनी बार चाहे लगा सकते हैं।

कैसे लाभदायक है :

शहद और नींबू में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो त्वचा की रक्षा करते हैं। खासकर कच्चे शहद में फ्लेवोनोइड और पॉलीफेनॉल गुण प्रचुर मात्रा में होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करते हैं। शहद होंठों के नए टिशूज के विकास में भी सहायक होता है। शहद पर हुए अध्ययनों से पता चला है कि शहद एंटीमाइक्रोबियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीएलर्जिक, एंटीटॉक्सिक, हीलिंग, मॉइस्चराइजिंग और खून को साफ करने जैसे गुणों से भरपूर है। शहद स्किन से जुड़े सभी रोगों के लिए फायदेमंद है। इसलिए, शहद और नींबू का यह मिश्रण होंठों के लिए मॉइस्चराइजर व कंडीशनर का काम करता है।

नींबू और चीनी स्क्रब

होंठों के नीचे और ऊपर के हिस्से के कालेपन को दूर करने के लिए नींबू और चीनी से बना स्क्रब काफी फायदेमंद है। नींबू में सैट्रिक एसिड होता है जो काली स्किन को गोरा बनाने का काम करता है। वहीं चीनी स्किन को मॉश्चराइज़ कर सॉफ्ट बनाती है।

उपयोग करने का तरीका

  • नींबू को दो टुकड़ों में काटें और उसे चीनी में डिप करें।
  • अब इससे होंठों के ऊपर और नीचे वाले हिस्से पर स्क्रब करें।
  • 3-5 मिनट तक ऐसा करें।
  • बेहतर रिजल्ट के लिए एक सप्ताह तक रोज करें। इससे इन हिस्सों का कालापन ठीक हो जाएगा।

कैसे लाभदायक है

चीनी एक प्राकृतिक एक्सफ्लोएटर है जो डेड स्किन हटाता है। वहीं नींबू का रस एक प्राकृति ब्लीचिंग एजेंट की तरह काम करता है जिससे काली स्किन साफ हो जाती है। रोज इसे यूज़ करें और होंठों के ऊपर और नीचे वाले हिस्से को साफ करें।

तो इन टिप्स की मदद से आप उन्हें साफ़ कर सकती है इन्हे ज़रूर अपनाये

If you find this article helpful please don’t forget to share my post and also follow me on Instagram for new updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *