कोहनी का कालापन दूर कैसे करे घरेलू उपाय – Kohni Ka Kalapan Kaise Hataye

Kohni Ka Kalapan Kaise Hataye

-Kohni Ka Kalapan Kaise Hataye-

गरमी हो या सरदी , मौसम में जैसे ही नमी की कमी हुई , इसका प्रभाव कोहनी और घुटनों की त्वचा पर देखने का मिलता है । कोहनियां पपड़ीदार होने लगती हैं । शरीर में विटामिन ए , सी और वी की कमी भी कोहनियों , घुटने और टखनों पर कालापन जमने और वहां की त्वचा के फटने की वजह हो सकती है ।

नियमित देखभाल से ये हिस्से स्वस्थ रह सकते हैं । सबसे पहले देखें कि आपके शरीर के ये हिस्से किस मौसम में सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं । सामान्य घरेलू उपचारों के बाद भी इनके फटने की समस्या नहीं सुलझती , ती सौंदर्य प्रसाधनों की जगह अपने खानपान पर गौर करने की जरूरत है ।

इसके साथ ही आप को बस अपना ज़रा ख्याल रखना है आप कुछ ही वक्तो में पायेगी की आप की कोहनिया खूबसूरत और साफ़ हो गयी है| आज मैं आप को कुछ टिप्स देने वाली हु जो आप की मदद करेगी आप की कोहनियो को खूबसूरत बनाने में!! तो चलिए जानते है की किस तरह आप पनि कोहनियो को खूबसूरत बना सकती है|

How To Remove Elbow Darkness In Hindi-

•खट्टे फल , पका पपीता , टमाटर , हरी पत्तोंवाली सब्जियां , गाजर , जई तथा दूधवाले पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करें । इससे विटामिन सी और बी की कमी पूरी होगी।

• अपने इन खुले अंगों पर साबुन का प्रयोग करने से बचें । कोहनियों और टखनों पर पेट्रोलियम जैली या बॉडी बटर का प्रयोग करें।

नारियल का तेल रातभर लगा कर रखें।

हफ्ते में एक बार स्क्रब का प्रयोग करें । घर में स्क्रब तैयार करें । इसके लिए दही , बेसन , नीबू और सरसों का तेल मिलाएं । इसे हाथों , कोहनियों और पैरों पर लगाएं । जब सूख जाए तो हल्के हाथ से स्क्रब करें।

• घुटने , कोहनियों और टखनों की देखभाल नियमित करने पर इन हिस्सों की खूबसूरती लंबी उम्र तक बरकरार रहती है । रात को सोने से पहले हैंड क्रीम और फुट क्रीम भी इन जगहों पर मलें।

अगर कालापन हो तो मलाई में नीबू के रस की कुछ बूंदें भी मिला कर वहां लगाएं।

शुद्ध बादाम तेल तथा ऑर्गन तेल त्वचा को पौष्टिकता प्रदान करते हैं । आप इन तेलों को किसी अन्य तेल के साथ मिलाए बिना सीधे इन हिस्सों पर लगाएं।

नारियल का तेल भी त्वचा को पोषण देने और नमी बनाए रखने के गुणों से भरपूर माना जाता है । यह त्वचा को सुरक्षा कवच प्रदान करता है|

नहाने से पहले सिर्फ नीबू का रस निकाल कर अलग रखें । इस रस को किसी फेस पैक या हेअर पैक में इस्तेमाल कर लें । अब रस निकले नीबू के छिलके में कुछ बूंदें शहद की डालें । कोहनियों , टखनों और घुटनों पर 10 मिनट तक मलते रहें । फिर इसे धो लें।

बॉडी लोशन लगाएं|

कोहनी का कालापन-

Kohni Ka Kalapan Kaise Hataye

तुरई के छिलके का प्रयोग भी इन हिस्सों में रक्त संचार बढ़ाएगा । इसीलिए जब भी बॉडी वॉश करें , तो लुफा से इन हिस्सों पर भी हल्के हाथ से मलें । ऐसा नियमित करने से इस पर मृत कोशिकाएं नहीं जमेंगी और इन हिस्सों पर कालापन नहीं होगा । नीबू के छिलकों को निचोड़ें और इस पर कोहनियां टिका कर 10 मिनट तक रखें । ऐसा हफ्ते में 2 – 3 बार करें । धीरे – धीरे प्रभावित स्थान का रंग साफ होता है ।

महीने में एक बार इन हिस्सों पर हर्बल ब्लीच लगाएं । संतरे के छिलके को सुखा कर पाउडर बना कर रखें । इसमें दही मिला कर खुले अंगों पर लगाएं । दही और ऑरेंज जूस मिक्स करके प्रभावित स्थान पर लगाएं और 15 मिनट बाद धो लें । मॉइश्चराइजर लगाएं ।

दूध में हल्दी और चंदन मिला कर लेप तैयार करें । इस लेप को हफ्ते में 2 बार कोहनियों पर लगाएं । – बेसन में नीबू का रस मिला कर रोज नहाने के समय कोहनी । और घटनों पर लगाएं । इससे त्वचा का रंग एकसार होगा ।

होममेड स्क्रब- होममेड स्क्रब बनाने के लिए भिगोयी हुई मसूर दाल के बाद नीबू के छिलके से रब करें । टैनिंग दूर होगी पीस लें । इसमें दही और शहद मिलाएं ।

नहाने से पहले-

ओट्स को पका लें । इसमें नीबू का रस , ग्लिसरीन 10 मिनट तक कोहनियों , टखनों और घुटनों पर मलें । का गाढ़ा पेस्ट बना लें । दही , नीबू , शहद और जौ का आटा मिलाएं । इसे घुटने , साफ करके यह पैक लगाएं। 25 मिनट बाद टखनों और कोहनियों पर मलें । गेंदे के ताजे फूल की स्क्रबिंग करते हुए चेहरा धो लें । इससे फेअर पत्तियों का पेस्ट और चुटकीभर हल्दी भी इसमें मिला कॉम्पलेक्शन तो मिलेगा ही , अनचाहे बालों सकती हैं । और एक्ने से भी छुटकारा मिलेगा । टमाटर और नीबू का रस मिला कर लगाएं ।

तो यह राइ कुछ टिप्स जो आप किओ मदद कर सकती है आप की कोहनियो को साफ़ करने में आप को हमारा आज का यह पोस्ट कैसा लगा मुझे कमेंट में ज़रूर बताये साथ ही मेरे आज के इस पोस्ट को लिखे और शेयर ज़रूर करे| और हमें इसी तरह जुड़े रहने के लिए सुब्स्क्रिबे भी ज़रूर करे||

धन्यवाद||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *