केराटिन ट्रीटमेंट क्या है, यह बालो के लिए क्यों ज़रूरी है और इसके क्या फायदे है? – Khoobsurat World

केराटिन ट्रीटमेंट क्या है, यह बालो के लिए क्यों ज़रूरी है और इसके क्या फायदे है?

hair keratin treatment in hindi

What is Keratin Treatment in Hindi: Keratin Treatment एक सेमी परमानेंट हेयर स्मूदनिंग प्रोसीज़र है, जो बालों की ऊपरी परत.. जिसका नाम क्यूटिकल (cuticle keratin)  है| उसे स्मूद (मुलायम) बनाती है ।क्या आप जानते है केराटिन ट्रीटमेंट किसे कहते है  ब्यूटी एक्सपर्ट्स के अनुसार, ” पॉल्यूशन, स्वीमिंग, स्ट्रॉन्ग शेपू, हार्ड केमिकल्स और स्टाइलिंग ट्रीटमेंट्स से बाल डैमेज होने लगते हैं। हमारे बाल केराटिन से बने हैं। यह एक तरह का प्रोटीन होता है, जिससे हमारी त्वचा, बाल और नाखून बने होते हैं। और अगर यही केराटिन की परत डैमेज हो जाती है, तो बाल रूखे, बेजान, पतले और फ्रिजी होने लगते हैं। केराटिन लॉस होने की वजह से उन पर किसी और स्टाइलिंग ट्रीटमेंट का कोई असर नहीं पड़ता और ऐसे में  hair fall problem भी बढ़ जाती है।

Benefit of Keratin Treatment in Hindi:

केराटिन ट्रीटमेंट क्यों ज़रूरी है बालो के लिए: बालो से संबंधित कोई बड़ी समस्या होने पर आप केरोटिन ट्रीटमेंट करवाए यह बालो में हुयी उस कमी को पूरा कर देती है जोकि केरोटिन की कमी है| ब्यूटी पार्लर विशेषज्ञों का कहना है की, केराटिन ट्रीटमेंट का इफेक्ट्स  3 – 4 महीने तक रहता है , लेकिन अगर बालों की ठीक से केअर की जाए, तो इसका असर 6 महीने तक रह सकता है । दसरे हेअर ट्रीटमेंट्स की तरह केराटिन ट्रीटमेंट को आप बार – बार रिपीट करवा सकती हैं । यह रिबॉन्डिंग की तरह वन टाइम ट्रीटमेट नहीं है और ना ही इसमें किसी स्ट्राँग केमिकल का प्रयोग होता है| जोकि इसकी सबसे बड़ी खासियत है|

केराटिन ट्रीटमेंट में कितना समय लगता है:

keratin treatment at home in hindi

मार्केट में तरह – तरह के केराटिन औटक्स उपलब्ध हैं, जिन्हें अप्लाई करने का तरीका और इसमें लगनेवाला समय अलग – अलग होता है । अगर आप ज्यूविनेक्स बेस्ड ट्रीटमेंट कराएंगी , तो इसमें आपको 2 – 3 घंटे का समय लगेगा । इस ट्रीटमेंट में सबसे पहले बालों को केराटिन शैंपू और कंडीशनर से क्लीन किया जाता है , ताकि बालों में से गंदगी और धूल के कण निकल जाये, और उसके बाद बालों में केराटिन सॉल्यूशन अप्लाई करके बालों को ब्लो ड्राई , हॉट आयरनिंग जैसे ट्रीटमेंट दिए जाते हैं । हालांकि कुछ ट्रीटमेंट्स में 24 घंटे तक का समय भी लग सकता है ।

केराटिन ट्रीटमेंट के फायदे/Keratin Treatment Benefits: 

बाल चाहे कर्ली हों, कलर किए हों , वेवी हों या artificial तरीके से स्ट्रेट किए हों, सभी पर यह ट्रीटमेंट किया जा सकता है |

आमतौर पर किसी हेअर प्रोसीजर के बाद बाल खराब हो जाते हैं, लेकिन केराटिन ट्रीटमेंट से बाल खराब नहीं होते । जब इस ट्रीटमेंट का असर कम होने लगता है, तो बाल पहले जैसे लगने लगते हैं_

यह ट्रीटमेंट करने के बाद बालों की स्टाइलिंग आसान हो जाती है और स्टाइलिंग के लिए ज्यादा प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं पड़ती|

कुछ जरूरी बातें/ सावधानिया:

इस ट्रीटमेंट को कराने के बाद बालों को लगभग 2 दिन तक खुला रखें और धूप से बचाएं, ताकि बालों में मॉइश्चर ना आए। नमी से बालों में डिपॉजिट हआ प्रोटीन निकल जाता है|

एक महीने के अंतराल पर केराटिन स्पा लेने से केराटिन का असर लंबे समय तक टिका रहता है|

ट्रीटमेंट के दौरान बालों में आर्टिफिशल केराटिन अप्लाई किया जाता है। सेंसेटिव स्किन वाली महिलाओं को इससे आंखों और त्वचा में एलर्जी हो सकती है|

केराटिन ट्रीटमेंट के बाद बालों में सल्फेट फ्री शप और कंडीशनर का ही प्रयोग करना चाहिए । इसके अलावा ग्लाइकोलिक एसिडवाले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी ना करें ।

इससे बालों का प्राकृतिक रंग खराब हो जाता है|

अगर बालों में कलर करती हों , तो ट्रीटमेंट से पहले कलर कराएं। बाद में जरूरी हो , तो सिर्फ रूट टचअप करें|

प्रेगनेंट महिलाओं को बालों में किसी तरह का ट्रीटमेंट नहीं कराना चाहिए । कुछ प्रोडक्ट्स में हानिकारक फॉर्मल्डिहाइड होता है। आप फॉर्मल्डिहाइड फ्री ट्रीटमेंट ही कराएं। सैलून एक्सपर्ट से पहले इस ट्रीटमेंट का पैच टेस्ट करने को कहें। अब फॉर्मल्डिहाइड फ्री प्रोडक्ट ही आने लगे हैं, लेकिन फिर भी इस ट्रीटमेंट के दौरान एक्सपर्ट और क्लाइंट दोनों को मास्क पहनना जरूरी है|

निष्कर्ष:

तो यह रही केरोटिन ट्रीटमेंट से जुडी कुछ ख़ास बाटे जो मुझे लगता है आप के लिए जानना बहुत ज़रूरी है, अगर आप इस ट्रटमेंट को करना चाहती है| जैसे हर चीज को उपयोग करने के कुछ फायदे और कुछ नुकसान होते है वैसे इसमें भी लेकिन अगर फायदे की बात की जाये तो इससे बालो को बहुत फायदा मिलेंगे जिसमें सबसे पहले आता है बालो के गिरने की समस्या जिसे यह काफी हद तक काम या रोक देती है तो अगर आप की इच्छा है तो इसे एक बार ज़रूर तरय करे|

आप को हमारा आज का यह पोस्ट कैसा लगा मुझे कमेंट कर के ज़रूर बताये इसके साथ ही इस ब्लॉग को लाइक और शेयर करना न भूलें थैंक यू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *