बालो को लम्बा घना और खूबसूरत कैसे बनाएं

बालो को लम्बा घना और खूबसूरत कैसे बनाएं

बालो के गिरने या झड़ने के कई कारन हो सकते है कुछ लोगो के बाल गलत तेल की वजह से गिरते है और कुछ के बाल गलत शैम्पू से, पर आप चाहे तो अपने बाल का गिरना रोक सकते है आज की हमारे टिप्स आप के बाल की ग्रोथ को न सिर्फ बढ़ाये गई बल्कि आप के बालो के गिरलने और दू मुहे बाल की समस्या भी ख़त्म हो जाएगी इसके लिए आप को हमारी इस टिप्स को बस फॉलो करना है।

पर उससे पहले हम बात करेंगे की बाल के गिरने का कारन क्या है ताकि आप उन बातो को धयान रखे और आगे से इन गलतियों को न दोहराएं।।

बाल गिरने के कारण

बाल झड़ने या गिरने की समस्या को लेकर जब आप डर्माटोलॉजिस्ट के पास जायेंगे तब वह इसके पीछे के वजह का पता लगाने की कोशिश करते हैं–

-अगर परिवार में गंजेपन की समस्या है तो, हो सकता है उस हार्मोन के सक्रिय हो जाने के कारण बाल झड़ रहे हैं।

– गर्भधारण करने के कारण, प्रसव होने के कारण, बर्थ कंट्रोल पिल्स लेने के कारण या अचानक बंद करने के कारण, रजोनिवृत्ति के कारण भी बाल झड़ते हैं।

– कभी-कभी बड़ी बीमारी से ठीक होने पर या  सर्जरी होने पर भी बाल झड़ते हैं।

-यहां तक कि खान-पान या डायट का असर भी बालों पर पड़ता है।

– और फिर आता है मेडिकल कंडिशन की बात। क्योंकि बीमारियों के कारण गंजापन, बालों का झड़ना जैसी समस्याएं आती हैं।

थॉयरायड-

आजकल तो अधिकतर लोगों को थॉयरायड की बीमारी हो रही है, चाहे वह पुरूष हो या महिला। थॉयरायड गर्दन के सामने की तरफ तितली की तरह ग्लैंड होता है। थॉयरायड डिजीज दो तरह की होती है- हाइपोथॉयरॉडिज्म और हाइपरथॉयरॉडिज्म। जो सीधे बालों के स्वास्थ्य पर असर करता है। थॉयरायड ग्लैंड के सुचारू रूप से काम करने पर ही बालों के झड़ने के समस्या को नियंत्रित किया जा सकता है|

पौष्टिकता की कमी (न्यूट्रिशनल डिफिसियेन्सी)-

न्यूट्रिशनल डिफिसियेन्सी उसको कहते हैं जब शरीर खाद्द पदार्थ के पौष्टिकता को सोख नहीं पाता है। इसकी कमी से बहुत सारी के बीमारियां पनपने लगती हैं। इसकी कमी से बदहजमी की समस्या से लेकर त्वचा संबंधी समस्याएं और डिमेंशिया तक हो सकता है। साथ ही साथ बालों के सेहत पर भी असर पड़ता है। न्यूट्रिशनल डिफिसियेन्सी में कमजोरी, थकान, सांस लेने में असुविधा, एकाग्रता में कमी जैसे लक्षणों के साथ बालों के झड़ने जैसी समस्याएं भी होती है|

तनाव (स्ट्रेस)-  

आज के तारिख में देखे तो तनाव किसको नहीं है। जिंदगी में कोई भी बूरी घटना घटने के बाद कभी-कभी इंसान उससे उभर नहीं पाता है। यानि जब चिंता की स्थिति दो-तीन के जगह पर महीनों में बदल जाती है तब वह स्थिति गंभीर हो जाती है। ये स्थिति न सिर्फ आपको शारीरिक तौर पर बल्कि मानसिक तौर पर भी प्रभावित करता है। स्ट्रेस का असर केश कूप या हेयर फॉलिकल पर पड़ता है जिसके कारण बाल असमय गिरने लगते हैं|

अवसाद (डिप्रेशन)-

आज के तारिख में मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में अवसाद को लेकर सभी परेशान है। तनाव और अवसाद दोनों का असर बालों के स्वास्थ्य पर पड़ता है। इसके कारण अचानक बाल झड़ने लगते हैं साथ ही बालों का विकास और बालों की क्वालिटी भी प्रभावित होती है। तो जैसे-जैसे अवसाद के स्थिति पर नियंत्रण पायेंगे बालों का स्वास्थ्य भी बेहतर होता जायेगा|

बालो को लम्बा घना और खूबसूरत करने की टिप्स –

अब हम बात करेंगे उस ख़ास उपाय की जो की आप के बालो की ग्रोथ के लिए बहुत ही उपयोगी साबित हो सकती है। इसके लिए आप को अपने शैम्पू में एक ख़ास चीज को ऐड कारणा है। यह उपाय ज़ारोर तरय करे। इसके लिए आप को चाहिए-

कोई भी अच्छा शैम्पू
चीनी का पाउडर
एलो वेरा जेल

अब आप को इन तीनो को आपस में अच्छे से मिला देना और इसे इतना अच्छे से मिक्स करे की इसमें की साडी एयर बहार आ जाये। इसके बाद आप को अपने बालो पर इस शैम्पू को लगा देना है और ५ मिनट के लिए इसे ऐसे ही बालो में लगा रहने देने है। उसके बाद साफ़ पानी से साफ़ कर लेना है। यह बालो के लिए बहुत फायदेमंद है। आप को इस टिप्स को १ महीने तक सिर्फ सिर् चार बार ही लगन है। यह बालो की लम्बाई को बढ़ाएगा और उनके गिरने की समस्या को कम करे गा।

You can also follow me on INSTAGRAM.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *